Triphala The Supper Fruitmix, त्रिफला के चमत्कारी फ़ायदे

Triphala (त्रिफला) एक आयुर्वेदिक औषधि है। त्रिफला का शाब्दिक अर्थ है ‘तीन फल’ लेकिन आयुर्वेद का त्रिफला तीन ऐसे फलों का मिश्रण है जो तीनो ही अमृतीय गुणों से भरपूर हैं।

त्रिफला(Triphala) क्या है

त्रिफला( Triphala) हर्बल प्रिपरेशन है जिसका उपयोग पारंपरिक आयुर्वेदिक चिकित्सा में सदियों से किया जाता रहा है यह तीनों का मिश्रण है आमलकी(आंवला ) विभितकी(बहेड़ा )और हरीतकी(हरड़ ) इनमें से प्रत्येक में अद्वितीय गुण और स्वास्थ्य लाभ है.यह तीनो क्रमशः 1:2:3 के अनुपात में लिया जाता है।

triphala

त्रिफला (Triphala) का उपयोग आमतौर पर स्वास्थ्य पाचन ,विषहरण ,प्रतिरक्षा कार्य और समग्र कल्याण का समर्थन करने के लिए किया जाता है। त्रिफला में फलों का संयोजन एक क्रियात्मक प्रभाव डालता है जिससे उनके व्यक्तिगत गुणों में वृद्धि होती है और स्वास्थ्य लाभ की एक श्रृंखला मिलती हैं त्रिफला का उपयोग आमतौर पर स्वास्थ्य प्रतिरक्षा कार्य समग्र कल्याण का समर्थन करने के लिए किया जाता है

आमलकी (amla)आंवला भी कहा जाता है विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है यह प्रतिरक्षा प्रणाली का समर्थन करता है पाचन में सहायता करता है और स्वस्थ त्वचा और बालों को बढ़ावा देता है।

बिभितकी (bibhitaki)अपने कसैली गुण के कारण जानी जाती हैं यह शरीर को साफ करने और श्वसन स्वास्थ्य का समर्थन करने और स्वस्थ पाचन बनाए रखने में मदद करता है। हरीतकी(haritaki) का उपयोग अक्सर नियमित मल त्याग को बढ़ावा देने पाचन में सुधार और समग्र गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल स्वास्थ्य का समर्थन करने के लिए किया जाता है।

त्रिफला (Triphala) पाउडर कैप्सूल टेबलेट या तरल अर्थ सहित विभिन्न रूप में उपलब्ध है इसका सेवन आमतौर पर मौखिक होता है जिसे पानी अन्य पदार्थों के साथ मिलाया जाता है। आयुर्वेद चिकित्सा में इसका उपयोग एक लंबा इतिहास रहा है और इसके वास्तविक लाभों का प्रमाण भी है।

त्रिफला (Triphala)के 10 जबरदस्त फायदे

त्रिफला आपके सम्पूर्ण शरीर को स्वस्थ रखने में सक्षम है। तो आईये त्रिफला चूर्ण के स्वस्थ्य लाभ के बारे में जानें।

1 -पाचन स्वास्थ्य के लिए लाभकारी (FOR GASTROINTESTINAL HEALTH)-

त्रिफला(Triphala )को पाचन स्वास्थ्य पर इसके सकारात्मक प्रभाव के लिए व्यापक रूप से मान्यता प्राप्त है यह पाचन में सुधार करने नियमित मल को बढ़ावा देने कब्ज में राहत देने और समग्र गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल फंक्शन का समर्थन करने में मदद कर सकता है ऐसा माना जाता है कि हम पाचन तंत्र को संतुलित करते हुए हलके प्रभाव डालता है।

यह पाचन तंत्र को मजबूत करने के साथ साथ आंतों की सफाई भी करता है। अधिकतर प्रोसेस्ड और पैक किये जाने वाले खाद्य पदार्थ को पचाना मुश्किल होता है और वे पाचन तंत्र में आंत के कुछ हिस्सों में फंस जाते है और पाचन तंत्र के काम करने की क्षमता को कम कर देते है। त्रिफला इन विषाक्त पदार्थो को आसानी से बाहर निकलने में मदद करता है। और पाचन तंत्र को ठीक करता है।

2-विषहरण और सफाई(Detoxification and cleansing)-

त्रिफला (Triphala) एक शक्तिशाली विषहरण और एक सफाई एजेंट माना जाता है यह शरीर से विषाक्त पदार्थों को खत्म करने में मदद करता है यकृत और पाचन तंत्र की प्राकृतिक सफाई प्रक्रियाओं का समर्थन करता है और समग्र विषहरण को बढ़ावा देता है।

3-एंटीऑक्सीडेंट गुण(Antioxidant property)-

त्रिफला (Triphala) में मौजूद तीन फल एंड एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होते हैं जो शरीर के फ्री रेडिकल्स के कारण होने वाले ऑक्सीडेटिव तनाव से बचाने में मदद करते हैं एंटी ऑक्सीडेंट समग्र स्वास्थ्य का का समर्थन करने स्वस्थ को बढ़ावा देने और पुरानी बीमारियों को कम करने के लिए जाने जाते हैं.

4-प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए लाभकारी(immunity system support)

त्रिफला (Triphala) शरीर के इम्यूनिटी सिस्टम को बढ़ाता है और बीमारियों से दूर रखने में सहायता प्रदान करता है. स्वस्थ प्रतिरक्षा प्रणाली का समर्थन करता है 3 फलों का संयोजन शरीर की प्राकृतिक सुरक्षा को बढ़ावा देता है और सामान्य कल्याण को बढ़ावा देता है।

5-त्वचा के लिए लाभकारी

त्रिफला (Triphala) का उपयोग अक्सर स्वच्छता को बढ़ावा देने के लिए किया जाता है इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण त्वचा को फ्री रेडिकल से होने वाले नुकसान से बचाता है कोलेजन उत्पादन में समर्थन करता है और त्वचा को युवा बनाए रखने में सहायता करता है।यह मृत कोशिकाओं को हटा छिद्रों को साफ करता है और त्वचा में प्राकृतिक चमक लाता है.

त्रिफला (Triphala) अपने रक्तशोधक गुण के कारण त्वचा के लिए बहुत ही लाभप्रद है। आंवला(amla) होने के कारण यह कोलाजेन निर्माण में सहायता करता है। बिभिताकी पिगमेंटेशन दूर करने में सहायक होता है। विटामिन C के कारण त्वचा पर झुर्रियों को रोकने में वैज्ञानिक रूप से प्रमाणित है।

6-वजन कम करने में लाभकारी

त्रिफला (Triphala) वजन प्रबंधन में बहुत ही लाभकारी है। यह चयापचय को संतुलित करने और स्वस्थ पाचन को बढ़ावा देने और संतुलित आहार और नियमित व्यायाम के साथ वजन प्रबंधन में मदद करता है। यह मिश्रण आपके शारीर से विषाक्त पदार्थो को आसानी से निकलने में मदद करता है।

इन्ही कारणों से यह अतिरिक्त फैट और मोटापे को कम करने में मदद करता है। इसलिए अगर आप वजन कम करने की सोच रहे है तो त्रिफला एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

7-आँखों के लिए लाभकारी

त्रिफला का उपयोग पारंपरिक रूप से नेत्र स्वास्थ्य के लिए भी किया जाता है। यह आंखों के तनाव को कम करने सूजन को कम करने और समग्र दृष्टि सुधार में मदद करता है। यह आंख की मांसपेशियों को मजबूत करता है। गाय का घी और शहद के मिश्रण के साथ त्रिफला का सेवन आँखों के लिए वरदान स्वरुप है।

8-कब्ज में लाभदायक

त्रिफला (Triphala) पावडर के कई लाभ है। यह पाचन तंत्र की कोई समस्या जैसे कब्ज और मल त्यागने में कठिनाई अदि को ठीक कर सकता है। यह एक आयुर्वेदिक औषधि है जिसका उपयोग विशेष रूप से कब्ज दूर करने में किया जाता है। रात्रि को सोने से पूर्व ५ ग्राम त्रिफला चूर्ण को गुनगुने पानी या दूध के साथ प्रयोग करने से कब्ज दूर होती है।

9-दांतों के लिए लाभकारी

त्रिफला (Triphala) आपको दांतों की समस्याओ से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकता है क्युकी इसमें एंटीबैक्टीरियल ओर एंटी INFLAMATARY गुण भी होता है। तो आप इस से दांतों में कीड़े लगना,मसूड़ो की सुजन और मसूड़ो से खून आने जैसी समस्याओ से बच सकते है।

त्रिफला (Triphala) को रत भर पानी में भिगोकर रखे और सुबह इस पोअनी को मुह में कुछ देर तक भर कर रखे ,इस से दन्त औए मसूड़े मजबूत होंगे। इस से मुह की दुर्गन्ध और छाले भी ठीक हो जाते है।

10-त्रिफला बालों के लिए वरदान

त्रिफला (Triphala) बालो के झड़ने ,बालो का पतला होना ,और गंजेपन के लिए बहुत अच्छा होता है। बालो के सफ़ेद होने पर भी त्रिफला का प्रयोग अति लाभकारी है।

अपने रक्तशोधक गुणों के कारण बालो के लिए बहुत लाभदायक होता है। आंवला होने के कारण बालो को कला करता है। त्रिफला के पेस्ट को बालो में लगा ले और आधे घंटे बाद धो ले इस से बल मजबूत होते है और सफ़ेद भी नहीं होते है।

समग्र स्वास्थ्य- त्रिफला शरीर और दिमाग पर संतुलन संतुलित प्रभाव डालता है और इसका उपयोग अक्सर एक कायाकल्प के रूप में किया जाता है जो जीवन शक्ति ऊर्जा और समग्र कल्याण को बढ़ावा देता है।

डिस्क्लेमर

  • इसको प्रेगनेंसी और स्तनपान के दौरान इस्तेमाल ना करें।
  • कुछ लोगों में त्रिफला मूत्र गुण दिखाता है।
  • 6 साल से छोटे बच्चों को त्रिफला ना दें।
  • त्रिफला (Triphala) को अत्यधिक मात्रा में लेने से दस्त लग सकते हैं।
  • इस्तेमाल करने से पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य लें।

3 thoughts on “Triphala The Supper Fruitmix, त्रिफला के चमत्कारी फ़ायदे”

Leave a Comment